सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रियों और इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट से त्रिपुरा में आने वालों का आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य

अगरतला। सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रियों और इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट से त्रिपुरा में आने वालों का आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। त्रिपुरा सरकार ने कोरोना के दूसरे दौर की भयानक परिस्थितियों की आशंका को देखते हुए यह निर्णय लिया है। शिक्षा मंत्री रतन लाल नाथ ने कहा कि त्रिपुरा सरकार केंद्रीय दिशा-निर्देशों के अनुसार कोरोना से निपटने के लिए सभी उपाय करने के लिए तैयार है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि त्रिपुरा कोरोना के खिलाफ अतिरिक्त सावधानी बरतेगा। इसलिए, सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रियों और इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट से त्रिपुरा में आने वालो का आरटी-पीसीआर परीक्षण अनिवार्य करने का निर्णय लिया गया है। उनके अनुसार, स्वास्थ्य विभाग ने हवाई अड्डे पर स्क्रीनिंग प्रक्रिया को और मजबूत किया है।

उल्लेखनीय है कि यूके में कोरोना ने भयानक रूप लेना शुरू कर दिया है। विशेषज्ञों का दावा है कि कोविड -19 का दूसरा चरण अधिक खतरनाक है। कोरोना के दूसरे संस्करण को 80 प्रतिशत तेजी से संक्रमण फैलाने में सक्षम पाया गया है। भारत सरकार ने 31 दिसम्बर तक ब्रिटेन से सभी उड़ानों को निलंबित कर दिया है। इसके अलावा यूके से लौटने वाले सभी लोगों पर परीक्षण और निगरानी रखने की व्यवस्था की गई है। इसका असर पूर्वोत्तर में भी देखने को मिल रहा है। राज्य सरकारें कई एतियाती कदम उठा रही हैं।

(Visited 43 times, 1 visits today)