बढ़ारणा में 3 बीघा में बसा रहे इण्डस्ट्रिज एरिया को जेडीए ने तोड़ा, अब सरकारी होगी जमीन

जेडीए. जयपुर नाउ

जयपुर विकास प्राधिकारण (जेडीए) की प्रवर्तन विंग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए जोन 13 के बढ़ारणा में सरकारी स्कूल के पीछे 3 बीघा जमीन पर बसा रहे अवैध इण्डस्ट्रीज एरिया को जेसीबी और हथौड़ों से ध्वस्त कर दिया। यहां बन रहे गोदाम व फैक्ट्रियों के स्ट्रक्चर को मिट्‌टी में मिला दिया और सड़के उखाड़ दी। जेडीए जोन 13 की प्रवर्तन विंग व जोन शाखा कृषि भूमि पर बिना भू रूपांतरण बसाई जा रहे इण्डस्ट्रीज एरिया की जमीन को सरकारी घोषित करेगा। इसके लिए आमेर एसडीएम के पास मुकदमा दायर होगा। जेडीए इस जमीन की खातेदारी निरस्त करवाएगा और यहां बिल्डिंग बना रहे लोगों से तोड़फोड़ का खर्चा वसूलेगा।  स्थानीय लोगों का आरोप  है कि बढ़ारणा की सरकारी स्कूल के पीछे मोतीभवन गृह निर्माण सोसायटी के पट्‌टों पर भगवान नगर इण्डस्ट्रीज एरिया बसाया जा रहा है।

जेडीए अवैध के खिलाफ करेगा सख्त कार्रवाई :                   मुख्य नियंत्रक

जेडीए के मुख्य नियंत्रक (प्रवर्तन) व एडिशनल एसपी रघुवीर सैनी ने बताया कि जोन 13 के बढ़ारणा में सरकारी स्कूल के पीछे करीब 3 बीघा निजी खातेदाररी (कृषि) भूमि पर बिना भू रुपांतरण कराये जेडीए  की बिना अनुमति व स्वीकृति के नवीन अवैध औद्योगिक कॉलोनी बसाने के लिए व्यावसायिक गोदाम के लिए बनाए जा रहे पांच स्ट्रक्चर, बाउंड्रीवॉल व पिलन्थ लेवल तक अवैध निर्माण को राजस्वव व तकनीकी स्टॉफ की निशादेही पर प्रवर्तन दस्ते ने जेसीबी व मशीनों से तोड़ है। इसके लिए जोन नं. 5 के दुर्गापुरा के पास पृथ्वीराज नगर कॉलोनी में 27 जगह रोड सीमा में बनाए चबूतरों, लोहे की एंगल, अवैध निर्माण व अतिक्रमण को जेसीबी मशीन व मजदूरों से तो ध्वस्त किया है। रोड सीमा के अतिक्रमण मुक्त करवाया है।

तीन बार पहले हो चुकी है कार्यवाही, पत्रिका की रिपोर्ट के बाद एक्शन :

जेडीए को की गई शिकायत में आरोप है कि JDA जोन 13 के बढ़ारणा गांव में तेजाजी मंदिर व सरकारी स्कूल के पास खसरा नं. 574, 575, 576, 577 व 669 के कुछ हिस्सा और खसरा नं.  674, 675, 676, 677, 652 के बड़े हिस्से की कुल 20 बीघा कृषि भूमि पर सड़क डाकर नई कॉलोनी व इण्डस्ट्रीज एरिया भगवान नगर बसा रहे है। JDA यहां 3 बार कार्रवाई कर चुका है। अब जेडीए के कुछ कर्मचारियों व पुलिस वालों ने यहां सस्ती रेट पर भूखंड खरीद लिए है और धड़ल्ले से फैक्ट्री व गोदाम बना रहे है।

जेडीए की प्रवर्तन विंग का खौफ खत्म या मिलीभगत :

स्थानीय लोगों का आरोप है कि बढ़ारणा, आंकेड़ा डूंगर, लक्ष्मीनारायणपुरा, अखैपुरा, कालियाका बास, सेवापुरा में बीते तीन साल से 100 अवैध इण्डस्ट्रीज एरिया और सोसायटियों की कॉलोनियां बस गई। जेडीए कार्रवाई करता है और कुछ दिनों बाद दुबारा निर्माण कार्य शुरु हो जाता है।

(Visited 51 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *