बिजली निगमों के निजीकरण खिलाफ कर्मचारियों का कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन

जयपुर नाउ।
प्रदेश की सरकारी बिजली निगमों के निजीकरण के विरोध व पुरानी पेंशन योजना OPS लागू करने की मांग को लेकर राजस्थान विद्युत श्रमिक महासंघ ने कलेक्ट्रेट पर विरोध प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने नारेबाजी की। प्रदर्शन के बाद पदाधिकारियों ने एडीएम-प्रथम को ज्ञापन दिया।


जब विद्युत मंडल का 2000 में विघटन किया गया, तब विद्युत मंडल का घाटा कम था। लेकिन बिजली निगम बनाने के बाद घाटा लगातार बढ़ रहा है। बिजली निगम प्रबंधन हर काम को प्राइवेट हाथों मेंं देकर ठेकेदारों को फायदा पहुंचा रहे है। राजस्थान विद्युत श्रमिक महासंघ के प्रवक्ता यतेंद्र कुमार ने बताया कि सरकार को हर काम ठेके पर देने के बजाए युवाओं की स्थायी भर्ती कर सरकारी नौकरी देनी चाहिए। घाटे से बचाने व निगम के बेशकीमती संपत्तियों को सुरक्षित रखने के लिए निजी हाथों में बेचना तर्कसंगत नहीं है। पुरानी पेंशन योजना सभी विभागों में लागू की गई है। इसे बिजली निगमों में लागू किया जाए। विरोध प्रदर्शन के दौरान संगठन के संयुक्त महामंत्री सुशील सेन, योगेश सक्सेना, जयपुर डिस्कॉम के अध्यक्ष गोविंद पालीवाल, महामंत्री विष्णु शर्मा, जयपुर ग्रामीण अध्यक्ष हेम चंद सैनी, उपमहामंत्री रणजीत सिंह, कुलदीप सिंह, अभिनव शर्मा, अजय, किशोर सिंह सहित अन्य कर्मचारी नेता मौजूद थे।

(Visited 13 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *