जयपुर डिस्कॉम में कुप्रबंधन: इंजीनियर 5 महीने से नहीं दे रहे बिजली कनेक्शन, उद्योगपतियों को करोड़ों का नुकसान

Jaipur Now.
जयपुर विद्युत वितरण निगम (डिस्कॉम) में कुप्रबंधन के कारण सैकड़ों उपभोक्ताओं को 5 महीने से बिजली कनेक्शन ही नहीं मिल रहा है। इससे करोड़ों का निवेश कर कॉमर्शियल व औद्योगिक यूनिट बनाने वाले उद्योगपतियों को हर महीने करोड़ों का नुकसान हो रहा है। वहीं जयपुर डिस्कॉम के अभियंता फाइल को इधर से उधर कर खानापूर्ति कर रहे है। ऊर्जा मंत्री हीरालाल नागर को लिखित शिकायत देने के बावजूद भी फील्ड इंजीनियर इन्हे गंभीरता से नहीं ले रहे है। डिस्कॉम क्षेत्र में उपभोक्ता को समय पर बिजली कनेक्शन देने की जिम्मेदारी ऊर्जा विभाग के एसीएस आलोक, जयपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक भानु प्रकाश येतुरु और जयपुर जोन के मुख्य अभियंता आर.के. जीनवाल पर है। लेकिन उपभोक्ता के लिए इनसे मिलना मुश्किल ही नहीं, बल्कि नामुमकिन है।
करोड़ों रुपए का निवेश, 5 महीने से दफ्तरों के चक्कर लगा रहा है उद्योगपति :
उद्योगपति ने जयपुर के सांगानेर उपखंड के ग्वार ब्राह्मणान इलाके के बालाजी फार्म-प्रथम में बेशकीमती जमीन लेकर करोड़ों रुपए निवेश कर अपना व्यवसाय शुरु किया। उद्योगपति ने अपने जीवनभर की कमाई लगा दी और बैंक से लोन लिया। बिल्डिंग में 58 एचपी का विद्युत कनेक्शन लेने के लिए 9 दिसंबर 2023 को वाटिका सबडिविजन में आवेदन किया। जिसका एप्लीकेशन ID 2115810019424 है। लेकिन पांच महीने से विद्युत विभाग के इंजीनियर उपभोक्ता को चक्कर कटवा रहे है। पहले फाइल में कमी बता कर चक्कर कटवाए। अब फाइल मुख्य अभियंता कार्याल में पेडिंग होने का बहाना कर रहे है। वहीं मुख्य अभियंता आरके जीनवाल की दलील है कि एईएन से कॉलोनी की प्रोरेटा बनवाने के लिए नक्शा मांगा है। काम कर रहे है, समय लगता ही है।
कनेक्शन में देरी के जिम्मेदारी :
जयपुर जोन मुख्य अभियंता : आरके जीनवाल
जेपीडीसी साउथ अधीक्षण अभियंता : एनपी सिंह
वाटिका एक्सईएन : एसके श्रीवास्तव
वाटिका एईएन मनोज गुप्ता

 

(Visited 9 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *